Coronavirus: कनिका संग पार्टी करने वाले पूर्व सांसद डंपी हुए कानून से ऊपर, अब भी घूम रहे खुलेआम

नैनीताल : कोरोना वायरस (Coronavirus) के खिलाफ जंग में बॉलिवुड गायिका कनिका कपूर की लापरवाही का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ कि अब पूर्व सांसद अकबर अहमद डंपी उनसे भी आगे निकल चुके हैं। कोरोना पॉजिटीव कनिका कपूर के संग पार्टी में मौजूद रहे अकबर अहमद डंपी इसकी पता होते हुए भी खुलेआम एक राज्य से दूसरे राज्य घूम रहे हैं। इतना ही नहीं वह सार्वजनिक तौर पर लोगों से मुलाकात भी कर रहे हैं। इस गैर-जिम्मेदाराना हरकत से अकबर अहमद डंपी, कोरोना से निपटने के शासन-प्रशासन के निर्देशों और महामारी रोग अधिनियम 1897 को ठेंका दिखा रहे हैं। 

मालूम हो कि एक दिन पहले शुक्रवार (20-मार्च-2020) को ही बॉलिवुड गायिका कनिका कपूर के कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है। इसके बाद से उत्तर प्रदेश के शहर लखनऊ, कानपुर, नोएडा और दिल्ली तक में हड़कंप मचा हुआ है। दरअसल 11 मार्च को लंदन से वापस लौटने के बाद कनिका कपूर को खुद को 14 दिन के लिए क्वारंटाइन करके रखना था। इसके विपरीत उन्होंने सभी दिशा-निर्देशों को ठेंगा दिखाते हुए जमकर पार्टी की। लंदन से वापस लौटने के बाद वह तीन-चार पार्टियों में शामिल हुई हैं जिनमें से एक पार्टी अकबर अहमद डंपी के घर पर हुई थी। 

इसके अलावा कनिका की इन पार्टियों में राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, उनके सांसद पुत्र दुष्यंत सिंह, यूपी के स्वास्थ्य मंत्री समेत तमाम लोग मौजूद रहे हैं। पार्टी के बाद ये नेता सार्वजनिक कार्यक्रमों में भी गए और दुष्यंत सिंह संसद में भी मौजूद रहे। इस दौरान उन्होंने राष्ट्रपति से मुलाकात भी की है। इस तरह से कनिका की लापरवाही ने तकरीबन 400 लोगों को कोरोना वायरस का संदिग्ध बना दिया है। 

कनिका के कोरोना पॉजिटिव होने की सूचना मिलते ही वसुंधरा राजे, उनके बेटे दुष्यंत सिंह, यूपी के स्वास्थ्य मंत्री समेत अन्य सभी नेताओं और यहां तक कि इनके संपर्क में आने वाले कई अन्य लोगों ने भी खुद को क्वारंटाइन कर लिया है। इन लोगों ने सबसे दूरी बना ली है और अपना कोरोना वायरस का टेस्ट भी करा रहे हैं। इसके बाद भी अकबर अहमद डंपी को कोरोना वायरस की गंभीरता का कोई अंदाजा नहीं लगा। उन्होंने  तमाम दिशा-निर्देशों और सावधियों को ताक पर रख दिया है। 

आलम ये है कि कोरोना वायरस संदिग्ध होने के बावजूद अकबर अहमद डंपी उत्तर प्रदेश से उत्तराखंड पहुंच गए हैं। अकबर अहमद डंपी शनिवार को ऊधमसिंह नगर के किच्छा स्थित अपने फार्म हाउस पर पहुंचे। यहां उन्होंने लापरवाही की सारी हदें पार करते हुए समर्थकों से मुलाकात भी की। डंपी के किच्छा पहुंचने की सूचना मिलते ही स्थानीय प्रशासन में हड़ंकप मच गया। आसपास के लोगों ने पुलिस-प्रशासन को उनके किच्छा पहुंचने और लोगों से खुलेआम मिलने की सूचना दी। 

लोगों ने प्रशासनिक अधिकारियों से मांग की है कि डंपी को उनसे दूर कहीं और शिफ्ट किया जाए। शहरवासियों का कहना है कि डंपी ने कनिका कपूर का कार्यक्रम अपने आवास पर कराया था। ऐसे में उनके भी संक्रमित होने की प्रबल आशंका है। डीएम के निर्देश पर स्वाथस्‍य कर्मियों की टीम उनके घर पहुंची और उनका स्वास्थ्य परीक्षण कर वापस लौट आई। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने उन्हें किसी से भी न मिलने के निर्देश दिए हैं। इसके बाद डंपी ने खुद को अपने फार्म हाउस में ही क्वाररंटाइन किया है। 

उन्हें कहीं और शिफ्ट करने पर अभी प्रशासन कुछ भी नहीं बोल रहा है। लखनऊ में कनिका कपूर जिन पार्टियों में गईं उनमें राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, उनके सांसद पुत्र दुष्यंत सिंह, यूपी के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह समेत कई सांसद, उत्तर प्रदेश के लोकायुक्त संजय मिश्रा, पूर्व मंत्री व राज्य सरकार के अफसर शामिल हुए। कनिका के वायरस की पुष्टि होने पर लखनऊ से लेकर दिल्ली तक खलबली मच गई। संपर्क में आए कई मंत्री, अफसर खुद ही घरों में क्वारंटाइन हो गए। लखनऊ में शुक्रवार को प्रशासन ने होटल ताज जिसमें कनिका ठहरी थीं, समेत सभी मुख्य बाजार बंद करा दिए और आइसोलेशन शुरू करा दिया गया।