केरल से लापता हुए कोरोना के संदिग्ध IAS अनुपम मिश्रा, कानपुर में मिली लोकेशन

कानपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 21 दिनों तक देश में लॉकडाउन की घोषणा की है, ताकि कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को फैलने से रोका जा सके। वहीं, केरल के एक आईएएस अफसर की बड़ी लापरवाही सामने आई है। दरअसल, यहां केरल के कोल्लम में तैनात आईएएस अफसर अनुपम मिश्र को कोरोना से संक्रमित होने के संदेह में आइसोलेशन में रखा गया था। लेकिन अनुपम मिश्रा वहां से लापता हो गए। केरल सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि जब इस IAS अफसर को फोन किया गया, तो उनकी लोकेशन कानपुर की मिला। इसके बाद यूपी सरकार से इस बारे में संपर्क किया जा रहा है।
प्रवक्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि आईएएस अनुपम मिश्रा इस महीने के पहले सप्ताह में ब्रिटेन से वापस लौटे थे। प्रवक्ता ने बताया कि एक आईएएस अफसर की इस तरह की लापरवाही गंभीर मामला है। केरल सरकार इस संदर्भ में यूपी शासन से संपर्क कर रही है। साथ ही इस मामले को केंद्रीय गृह मंत्रालय के संज्ञान में भी लाया जाएगा। प्रवक्ता ने बताया कि पीएम नरेंद्र मोदी के लॉकडॉउन का ऐलान करने से पहले बीते 21 मार्च को ही वह लापता हो गए।
वहीं, कोल्लम के कलेक्टर अब्दुल नासिर ने बताया कि अनुपम मिश्र के लापता होने की जानकारी उस समय मिली, जब स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी उनके घर जांच करने पहुंचे। ये जांच अधिकारी अनुपम मिश्र के लापता होने के 2 दिन बाद उनके घर पहुंचे थे। जब जांच अधिकारियों ने अनुपम को फोन किया, तो उनका लोकेशन यूपी के कानपुर का निकला। कलेक्टर ने बताया कि अनुपम मिश्र ने क्वारेंटाइन के बीच यात्रा करने के बारे में पहले से कोई जानकारी नहीं दी थी। आईएएस अधिकारी की इस लापरवाही को लेकर कोल्लम जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया है।