तबलीगी जमात पकिस्तान की साजिश- अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद

प्रयागराज:  देश में तेजी से फैल रहे कोरोना के संक्रमण के लिए साधु-संतों की सबसे बड़ी संस्था अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने दिल्ली के निजामुद्दीन में तब्लीगी जमात को जिम्मेदार ठहराया है। अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरी ने निजामुद्दीन में तब्लीगी जमात को पाकिस्तान की बड़ी साजिश करार देते हुए मौलाना साद के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की भी मांग की है।
अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरी ने कहा है कि तब्लीगी जमात में शामिल लोगों के देश के अलग-अलग हिस्सों में जाने के बाद से ही कोरोना का संक्रमण पूरे देश में तेजी से फैल रहा है। महंत नरेन्द्र गिरी ने कहा है कि यूपी सरकार जमात में शामिल लोगों के खिलाफ सख्त कदम भी उठा रही है और उन्हें क्वारंटाइन करने के बाद उनके खिलाफ मुकदमे भी दर्ज करा रही है। लेकिन बड़ा सवाल ये है कि आखिर लॉक डाउन के बावजूद मस्जिदें क्यों खुली हैं?
महंत नरेन्द्र गिरी ने कहा है कि सभी धर्मों के मानने वाले लोगों को लॉक डाउन का सख्ती से पालन करना चाहिए। महंत नरेन्द्र गिरी ने भी देशवासियों से अपील की है कि लॉक डाउन को लेकर पीएम मोदी की अपील पर पूरी तरह से अमल करें और बेवजह पुलिस से भी न उलझें। क्योंकि पुलिस भी लोगों के हितों के लिए सड़कों पर है।
ज्ञात हो की जबसे दिल्ली के निजामुद्दीन स्थित तब्लीगी जमात के मरकज का कोरोना कनेक्शन सामने आया है , तबसे पूरे देश में हड़कंप मचा हुआ है। अब मरकज में आए लोगों की तलाश शुरू हो गई है। दिल्ली के बाद लखनऊ और बिजनौर में सर्च ऑपरेशन चलाया गया। दरअसल, दिल्ली में तबलीग जमात के मरकज में हुए धार्मिक आयोजन में शामिल हुए लोगों का कनेक्शन 19 राज्यों तक है। अब हर राज्य में इनकी तलाश कर क्वारनटीन किया जा रहा है। बताया जा रहा है कि मरकज पर धार्मिक आयोजन के वक्त वहां 3 हजार से ज्यादा लोग मौजूद रहे।