कार्यकर्ता की बेटी की शादी के लिए सीएम योगी ने भेजे 2 लाख रुपये

गोरखपुर: सीएम योगी आदित्यनाथ अपने समर्थकों और पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ रिश्ता निभाना जानते हैं। उनकी यही खासियत उनके कार्यकर्ताओं का भरोसा भी है। यह भरोसा तब और मजबूत हो गया जब एक कार्यकर्ता को डीएम ने बताया कि उसकी बेटी की शादी के लिए मुख्यमंत्री ने दो लाख रुपये भेजे हैं। इस पर खुशी के चलते उसका गला भर आया और बोला बाबा की कृपा हमेशा बनी रहती है।

सदर संसदीय क्षेत्र में स्थित अकोलोहिया गांव निवासी अखिलेश यादव 25 साल से भाजपा से जुड़े हुए हैं। पार्टी के प्रति उनकी निष्ठा से योगी आदित्यनाथ भी बखूबी वाकिफ हैं। यही वजह है कि अखिलेश जब भी किसी कार्यक्रम में सामने पड़ते हैं तो योगी उनका कुशलक्षेम पूछना नहीं भूलते हैं। बीते नौ फरवरी को भी ऐसा ही हुआ। योगी खोराबार स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर आरोग्य मेले का उद्धाटन करने पहुंचे थे। इसी दौरान उनकी नजर अखिलेश पर पड़ी। सीएम ने उन्हें अपने पास बुलाया और कुशलक्षेम पूछा।

अखिलेश ने जब बताया कि उसने अपनी बेटी अंजली की शादी तय कर दी है तो सीएम ने पीठ थपथपाई और मंदिर पर आकर मिलने को कहा। दूसरे दिन अखिलेश ने गोरखनाथ मंदिर में सीएम योगी से मुलाकात की और बेटी की शादी का न्योता दिया। मंगलवार को अखिलेश यादव अपने घर पर परिवारीजनों के साथ बैठे थे। इसी बीच उनके मोबाइल पर डीएम कार्यालय से मैसेज पहुंचा। मैसेज पढ़कर खुशी से उनकी आंखें भर आईं। वह खुद को रोक नहीं पाए और डीएम को तत्काल फोन मिला दिया। डीएम के विजयेंद्र पांडियन ने अखिलेश को बताया कि सीएम ने उनकी बेटी की शादी के लिए 2 लाख रुपये की आर्थिक सहायता दी है।

यह चेक उन्हें ग्रामीण विधायक विपिन सिंह मुहैया कराएंगे।अखिलेश ने बताया कि उनकी बेटी अंजली का 3 मई को तिलक जाएगा। उसकी 17 मई को शादी है। वह बेटी के तिलक और शादी की तैयारियां कर रहे हैं।