पीएम मोदी स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन के ग्रैंड को किया संबोधित, जानें बड़ी बातें

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन 2020 के ग्रैंड फिनाले को संबोधित किया। इस अवसर पर पीएम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए छात्रों से भी बातचीत की। इस बार हैकाथऑन का फोकस कोविड के बाद की दुनिया और आत्मनिर्भर भारत है। स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद और केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय की ओर से संयुक्त रूप से शुरू किया गया एक राष्ट्रव्यापी अभियान है। हैकाथॉन को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि, हेल्थकेयर में डेटा ड्रिवेन सलूशन से काफी बड़ा परिवर्तन है। जिसके कारण गरीब से गरीब तक और दूर-दूर के गांव तक हम अफोर्डेबल और वर्ल्ड क्लास हेल्थकेयर सिस्टम पहुंचा सकते हैं। छात्रों से बात करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि,एर्नाकुलम में बैठकर, आप नॉर्थ ईस्ट के लोगों की समस्याओं को हल करने के लिए उत्पाद बना रहे हैं।

यह एक भारत श्रेष्ठ भारत के विचार को शक्ति प्रदान करता है उन्होंने कहा कि हमारी सुविधाओं को प्रभावी, इंटरैक्टिव और लोगों के अनुकूल बनाने में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एक बहुत बड़ी सुविधा हो सकती है। पीएम ने छात्रों को बधाई देते हुए कहा कि डेटा-संचालित समाधानों के साथ, हेल्थकेयर समाधान एक बड़ा बदलाव पैदा कर रहे हैं। गरीबों के अधिकांश इलाकों को इस कारण आज सस्ती सेवाएं मिल रही हैं और आयुष्मान भारत योजना के तहत हमारा ये उद्देश्य भी है। पीएम मोदी ने कहा कि, बच्‍चों और महिलाओं की सुरक्षा को लेकर क्‍या कोई अलर्ट सिस्‍टम विकसित हो सकता है जो प्रॉपर्ली इंटिग्रेटेड हो। क्‍या यह स्‍कूल बस, ऑटो, कैब को पुलिस कंट्रोल रूम के साथ रियल टाइम कनेक्‍ट हो सकता है।