सपाइयों पर दना-दन बरसी लाठियां, पुलिस से घंटों चली नोक झोंक

गोरखपुर: सपाइयों का हल्ला बोल और उन पर पुलिस ने लाठी भांजी। सपाइयों के उग्र प्रदर्शन में पुलिस से हुई नोक झोक। जी हां गोरखपुर में आज समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जम कर हल्ला बोला और प्रदर्शन किया। इस दौरान पुलिस और सपाइयो में नोक झोक के दौरान पुलिस ने एक सपाई पर जम कर लाठी बरसाई, इस लाठी में एक सपाई बुरी तरह घायल हो गया। प्रदेश व्यापी समाजवादी पार्टी का प्रदर्शन आज प्रदेश भर में देखने को मिला। गोरखपुर में भी सैकड़ो की संख्या में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं और नेताओं ने प्रदर्शन किया।

आपको बता दे, कि आज समाजवादी पार्टी के पार्टी कार्यालय से सैकड़ो की संख्या में सपाइयो ने मुख्यालय घेरने के लिए हल्ला बोला। इस दौरान पार्टी कार्यालय के पहले चौराहे पर ही उन्हें घेरने के लिए फायर ब्रिगेड की गाडी के साथ भारी भरकम फ्रोस मौजूद थी। दो बसों के साथ, जैसे ही स्पाई आगे बढे पुलिस ने इन्हें रोक कर बस में बैठने को कहा, इस दौरान सपाई पुलिस को धक्का देकर आगे बढने लगे। तभी पुलिस इन्हें जबरन बस में बैठाने लगे। इसी दौरान तमाम कार्यकर्ता सड़कों पर बैठ गए और प्रदर्शन करने लगे। पुलिस ने उन्हें जबरन उठाने की कवायत की, इसी दौरान एक सपाई जबरन सड़क पर लेट गया और पुलिस के ही कुछ सिपाहियों ने लाठी भांजी शुरू कर दी, और वो सपा कार्यकर्ता बुरी तरह से घायल हो गया, और उसका हाथ फैक्चर हो गया।

अधिकारी ने जब ये देखा तो उसने बीच में आकर खुद उसे डांट कर रोका। इस दौरान अधिकारी के हाथ में भी चोट आ गई, उसके बाद तमाम पुलिस वालो ने उस सपाई को अस्पताल ले जाने के बजाय उसे पुलिस लाइन ले गए। जबकि वो दर्द से कराहता रहा, लेकिन पुलिस वाले रहम के बजाय उसे हाथ पैर पकड़ कर जीप में बैठा कर लाइन ले गए। कीर्ति निधि पांडे (सपा के पूर्व प्रदेश प्रवक्ता) ने कहा कि समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के निर्देश पर समाजवादी पार्टी जनहित के मुद्दों को लेकर शांति पूर्ण ढंग से धरना दे रहे थे।

लेकिन सत्ता के दवाब में ये अधिकारी और यहाँ की पुलिस ने बेवजह हमारे कार्यकर्ताओं पर लाठियां बरसने लगे। हम इसकी कड़ी निंदा करते है।
वही सिटी मजिस्ट्रेट अजीत सिंह ने बताया कि गोरखपुर में आज सैकड़ी की संख्या में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं और नेताओं ने जम कर हल्ला बोला और प्रदर्शन किया। इस दौरान सपाइयो और पुलिस में नोक झोक के दौरान लाठी चली। जिसमें एक कार्यकर्ता बुरी तरह से घायल हो गया। फिलहाल पुलिस ने पुलिस लाइन से घायल सपाई को इलाज के लिए अस्पताल भेज दिया है और बाकी सपाइयो के द्वारा एक ज्ञापन लेकर आगे फॉरवर्ड कर दिया जाएगा।