बलात्कार से पैदा हुआ बच्चा, अब ऐसे होगी पहचान

नई दिल्ली: दिल्ली में एक महिला के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है। जहां पर महिला ने आरोप लगाया है कि आरोपी ने उसको शादी का झांसा देकर उसके साथ दुष्कर्म किया। जिससे वो गर्भवती हो गई और आरोपी के प्रताड़ना के कारण उसने एक मृत बच्चे को जन्म दिया। अब महिला ने तीस हजारी स्थित एसपीएस ललेर की अदालत का दरवाजा खटखटाया है। एक खबर के अनुसार, अदालत ने पुलिस को नवजात बच्चे के शव को कब्र से निकालने का आदेश दिया है और बच्चे के डीएनए सैंपल को आरोपी के सैंपल से मिलाने को कहा है। साथ ही बच्चे के जन्म और मृत्यु संबंधी सभी दस्तावेजों को पेश करने को कहा है।

आपको बता दें कि पीड़ित महिला पहले से ही शादीशुदा है और आरोप लगाया है कि आरोपी ने पहले तो उसे शादी का झांसा देकर दुष्कर्म किया और गर्भवती बना दिया। बाद में शादी करने से इंकार कर दिया। महिला ने ये भी आरोप लगाया है कि आरोपी के प्रताड़ना की वजह से उसने वक्त से पहले ही मृत बच्चे को जन्म दिया था। अदालत ने पुलिस को बच्चे के डीएनए को आरोपी की डीएनए से मिलाने को कहा है ताकि इस बात का पता चल सके कि वो बच्चा पीड़ित के पति का है या फिर आरोपी का।

साथ ही अदालत ने महिला के तालाक के कागजात की मांग की है। जिससे ये पता चल सके कि अगर आरोपी ने महिला से शादी का वादा किया था तो क्या महिला अपने पति से तलाक ले चुकी थी? जिसके बाद पुलिस महिला से तलाक के कागज पेश करने के लिए नोटिस देगी