यूपी : पूरे गांव वालों पर दर्ज हो गया मुकदमा, जानिए वजह

लखनऊ  :  गंदगी फैलाने पर मोहनलालगंज की एक बस्ती के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है। संकट मोचन मन्दिर बस्ती में जलभराव और चारों ओर फैली गंदगी पर तहसील दिवस में डीएम से शिकायत की गई थी। ब्लॉक प्रशासन की ओर से भी गंदगी फैलाने वालों को कई बार नोटिस दी गई। सुधार न होने पर बीडीओ की तरफ से सोमवार को केस दर्ज कराया गया।इस बस्ती के ग्रामीण पिछले कई सालों से बरसात में जलभराव की समस्या से परेशान हैं। बीते 20 अगस्त को तहसील दिवस में मामले की डीएम से शिकायत की थी। डीएम कौशल राज शर्मा ने लोक निर्माण विभाग को जल निकासी के लिए टूटी पुलिया का निर्माण करने का निर्देश दिया था। इसी बीच मोहल्ले में 27 अगस्त को बुखार से पीड़ित 38 वर्षीय मीरा की मौत हो गई थी। लोगों का आरोप है कि गंदगी की वजह से ही मोहल्ले में संक्रामक रोग फैला।

 बीडीओ भोलानाथ कनौजिया ने पूरी बस्ती के आस-पास रहने वाले लोगों के खिलाफ कूड़ा-करकट फैलाने का मुकदमा दर्ज करवा दिया। पुलिस मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।क्षेत्र की महिलाएं और बुजुर्ग दहशत में हैं। लोगों में इस बात को लेकर गुस्सा भी है कि जिस समस्या को लेकर उन लोगों ने अफसरों के चक्कर काटे। तहसील दिवस में फरियाद का समाधान तो हुआ नहीं उल्टे आरोपी बन गए।महिला की मौत का प्रकरण नहीं है। उस क्षेत्र में लोग रोजाना ठेलिया लगाते हैं और कूड़ा फेंकते हैं। उनको नोटिस भी भेजा जा चुका है। फिर भी नहीं मानते।